1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

Radio D Teil 1

अध्याय 2: राडियो डी का टेलीफोन

फिलिप को चैन नहीं मिलता. तंग करने वाले कीड़ों के बाद अब वह पड़ोसियों के घर में झगड़े से परेशान है. बर्लिन से अचानक आए एक टेलीफोन की वजह से उसे सब कुछ छोड़ छाड़कर वापस जाना पड़ता है. फिलिप को राडियो डी में पहुंचना है.

फिलिप के लिए अच्छी खबर.

फिलिप के लिए अच्छी खबर.

गांव में आराम करना फिलिप की किस्मत में नहीं है. एक बिजली की आरी और एक नौसिखिये ट्रॉम्पेट वादक की वजह से उसका रहा सहा धीरज खत्म होने लगता है. ऐसी स्थिति में पाउला के टेलीफोन से उसे राहत मिलती है, जो बर्लिन में राडियो डी में काम करती है. अपनी मां को निराश करते हुए वह तुरंत राजधानी की ओर चल पड़ता है.

यहां भी चंद शब्दों के जरिये पता चलता है कि क्या हो रहा है. खासकर अंतरराष्ट्रीय शब्दों और बोलने की शैली से घटनाओं के सिलसिलेवार ढंग से समझने और सुनकर समझने की आदत बनाने में मदद मिलती है.

इससे जुड़े ऑडियो, वीडियो

डाउनलोड