1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

फीडबैक

अद्धभुत कारनामों का पिटारा है मंथन

पाठकों ने मंथन कार्यक्रम के अलावा डीडब्ल्यू हिन्दी फेसबुक पेज को भी सराहा है. क्या लिखा है उन्होंने, जानिए आप भी...

इस बात से भला कौन इनकार कर सकता है कि मंथन की हर रिपोर्ट का एक अपना ही अलग रंग होता, मजा होता है, महत्व होता है जिन के जरिए हमें बहुत से विषयों के बारे में अहम और रोचक जानकारी मिलती रहती है. मंथन के 81वें एपिसोड में स्मार्ट ट्रैक्टर के बारे में जानकारी बहुत पसंद आई. सिर्फ इसलिए नहीं कि मैं मंथन को हमेश ही से पसंद करता हूं, बल्कि इसलिए भी कि एक तरह से खेती और किसानों से मेरा निकट संपर्क और वास्ता रहता है और यहां के किसानों और खेती से जुड़ी तमाम बातों और समस्याओं का भी मुझे अंदाजा है. मंथन के कारण जर्मनी से ऐसी नई नई जानकारियां पाना हमारे लिए अब बहुत आसान हो गया है लेकिन अफसोस कि हमारे किसान खेती से जुड़ी बहुत सी आवश्यक और बुनियादी जानकारी के न होने और इस तरह की मशीनरी की सुविधा के न होने के कारण फसल का नुकसान कर बैठते हैं.

BdT Wasser auf dem Mond

चांद पर बनेगा पानी इस बारे में भी जान कर बहुत हैरानी हुई, खुदा खैर करे! वैज्ञानिक चांद की धूल के साथ पानी बनाने का प्रयोग कर रहे हैं. अपने विकास के लिए कई दशकों से इंसान ने अपनी इस धरती का हुस्न बिगाड़ा है, कुदरत के निजाम के संतुलन को खराब किया है और फिर उसके नतीजे में जो तबाही इस दुनिया में आती रहती है, वो भी हम सब के सामने है. अभी तो पानी के हासिल करने में चांद पर बहुत समय लगेगा लेकिन जिस तरह वैज्ञानिक हाथ धोकर चांद के पीछे पड़ गए हैं कि वहां पर इंसान को बसाया जाए, तो डर है कि कहीं ये खुद इंसान के अपने लिए ही शदीद हानिकारक न बन जाए. बहुत अहम और रोचक जानकारी के लिए डीडब्ल्यू और मंथन का बहुत शुक्रिया.

आजम अली सूमरो, ईगल इंटरनेशनल रेडियो लिसनर्स क्लब, खैरपुर मीरस, सिंध, पाकिस्तान

~~~

मैं आपका मंथन डीडी1 पर नियमित देखता हूं. यह बहुत ही लाभदायक प्रोग्राम है जिसमें बेहतरीन पेशकश के साथ साथ बेहतरीन ज्ञान भी शामिल है. आप सभी को कोटि कोटि धन्यवाद और भविष्य में आगे भी हम भारतीयों को और अधिक जानकारी और मनोरंजन मिलता रहेगा ऐसी कामना करता हूं.

मोहम्मद जमाल खान मिस्त्री, शबीना रेडियो लिस्नर्स क्लब, गया, बिहार

~~~

प्रतिस्पर्धा के इस युग में डीडब्ल्यू हिन्दी फेसबुक पेज सफलता की नई इबारत लिख रहा है पाठकों की रूचि में निरंतर बढ़ोत्तरी देखने को मिल रही है. कारण स्पष्ट है देश दुनिया की हलचल पर पैनी नजर और पल पल बदलते घटनाक्रम पर शीघ्र ब्लॉग का प्रस्तुतिकरण, फिर चाहे राजनीतिक उथल पुथल हो, खेलों से संबंधित समाचार हों, ज्ञान विज्ञान,पर्यावरण से जुड़ी बातें या कला संस्कृति, मनोरंजन या फिर पर्यटन और इन सब के साथ हमारे स्वास्थ संबंधी नए प्रयोग का भी विषय अछूता नही है. मैं इस पेज की कार्यप्राणाली पर अपनी पूरी संतुष्टि दर्शाते हुए डीडब्ल्यू हिन्दी विभाग को बधाई देता हूं.

नित नई खोज, शोध और अद्धभुत कारनामों का पिटारा लिये मंथन हर बार कुछ नया प्रस्तुत कर हमें आश्चर्यचकित कर देता है. जिस चांद के किस्से हम दादी नानी से सुनते थे, उस पर जब मनुष्य के कदम रखने की खबर आई तो सब ने दांतों तले उंगली दबाली. नई तकनीक का आविष्कार होता गया. नए परीक्षण होते गये. चांद को लेकर अब मंथन में ज्ञात हुआ कि वहां पानी तैयार करने की योजना बन रही है जो अचंभित करने वाली बात है. मंथन के द्वारा इस कार्यक्रम की सफलता की और कामना करते हुए आशा करते हैं कि भविष्य में मंथन इसी प्रकार हमारा ज्ञानवर्धन कराता रहेगा.

मोहम्मद सादिक आजमी, ग्राम लोहिया, जिला आजमगढ़, उत्तर प्रदेश

~~~

मुझे मंथन क्विज प्रश्नोलॉजी का विजेता चुनने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद. मंथन कार्यक्रम मुझे बहुत ही अच्छा लगता है कि शब्दों में बताना बहुत मुश्किल है, फिर भी इतना कहना चाहूंगी कि ...

"ज्ञान को मथकर तुम तो अमृत बन गए हो मंथन,

जीवन को देते हो नित नव चिंतन नव दर्शन,

अब तो तुम्हारे बिना सूना सूना सा लगता है मन,

सच में तुमसे मिलकर होता है सदैव नित नया ज्ञान वर्धन".

मीना शुक्ला, लखनऊ, उत्तर प्रदेश

~~~

फीडबैकः विनोद चड्ढा

संपादनः आभा मोंढे