1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

अदालत ने पोलांस्की की अपील ख़ारिज की

कैलीफ़ोर्निया की अदालत ने बाल यौन अपराध के केस में फंसे मशहूर फ़िल्मकार रोमान पोलांस्की की अपील ठुकराई. पोलांस्की की दलील थी कि उनकी पेशी के बिना मामले की सुनवाई चलती रहे. ताज़े फ़ैसले से पोलांस्की की मुश्किलें बढीं.

default

पीछा करता अतीत

कैलीफोर्निया की एक ज़िला अदालत ने पोलांस्की की अपील को ठुकराते हुए कहा कि उन्हें कोर्ट में पेश होना ही होगा. अदालत के फ़ैसले के बाद पोलांस्की को यूरोप से अमेरिका लाने का रास्ता साफ हो गया है. ऑस्कर समेत कई बड़े पुरस्कार जीत चुके 76 साल के पोलांस्की को इस वक्त स्विटज़रलैंड में नज़रबंदी में रखा गया है.

बेहद प्रतिभाशाली फ़िल्म निर्माताओं में गिने जाने वाले पोलांस्की को बीते साल सितंबर में स्विटज़रलैंड में ग़िरफ़्तार किया गया था. पोलांस्की पर एक अमेरिकी बच्ची से यौन संबंध बनाने के आरोप है. पोलांस्की इस आरोप को स्वीकार भी कर चुके हैं. लेकिन 1977 में सामने आए इस मामले के बाद से ही वह अमेरिका से भागे हुए हैं.

पोलांस्की ने जिस बच्ची से यौन संबंध बनाए थे अब वह 46 साल की हो चुकी है. गुरुवार को पोलांस्की के वकीलों के अलावा महिला ने भी कोर्ट से केस बंद करने की दरख़्वास्त की, जिसे अदालत ने ठुकरा दिया.

Roman Polanski wird 75

पोलांस्की फ़िलहाल स्विटज़लैंड में नज़रबंद हैं. वह बीते साल स्विस शहर त्स्युरिष में एक फ़िल्म समारोह में हिस्सा लेने गए थे, जहां उन्हें ग़िरफ़्तार कर लिया गया. दिसंबर में उन्हें स्विस अदालत से 45 लाख डॉलर के निजी मुचलके पर ज़मानत दी. लेकिन ज़मानत के बाद पोलांस्की को जेल से निकालकर एक अज्ञात स्थान में नज़रबंद रखा गया है.

स्विस अधिकारी पहले ही साफ़ कर चुके हैं कि अमेरिका के आग्रह पर ही पोलांस्की को वॉशिंगटन के हवाले किया जाएगा. गुरुवार फ़ैसले के बाद उन्हें अमेरिका भेजे जाने की संभावना बढ़ गई है. हालांकि स्विस अधिकारियों का कहना है कि प्रत्यर्पण की मांग के बाद भी फ़िल्म निर्माता को अमेरिका भेजे जाने में साल भर का वक्त लग सकता है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: उज्ज्वल भट्टाचार्य

संबंधित सामग्री