1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

अदालत के कठघरे में हैती के पूर्व तानाशाह बेबी डॉक

बड़े मियां तो बड़े मियां, छोटे मियां सुभानल्लाह ये बात हैती के तानाशाह पापा डॉक के बेटे बेबी डॉक के बारे में कहा जाता था. वो रविवार को हैती वापस लौटे, और उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है.

default

पूर्व तानाशाह बेबी डॉक

15 साल तक देश की जनता पर कहर ढाने के बाद 1986 में अमेरिकी वायु सेना के एक विमान से बेबी डॉक या ज्यां क्लोद दुवालिएर को देश छोड़कर भागना पड़ा था. रविवार को वे हैती वापस लौटे और एक आलीशान होटल में ठहरे. उनका कहना था कि वे भूकंप से पीड़ित देश की जनता की मदद करना चाहते हैं. लेकिन हैती पहुंचने के कुछ ही समय बाद सरकारी अभियोक्ता ने उनसे पूछताछ शुरू की और फिर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया. चार घंटे बाद उन्हें हिरासत से छोड़ा गया.

अब उन पर भ्रष्टाचार और दसियों करोड़ डॉलर की हेराफेरी के आरोप लगाए गए हैं. एक वकील ने सूचित किया है कि उन्हें रिहा किया गया है, लेकिन वे अदालत की देखरेख में हैं.

हैती में हुए राष्ट्रपति चुनाव में कोई स्पष्ट नतीजा सामने नहीं आया है. 16 जनवरी को होने वाला चुनाव का दूसरा चरण अनिश्चित काल के लिए टाल दिया गया है. राजधानी पोर्ट ऑफ प्रिंस और देश के व्यापक हिस्से मलबों में बदल चुके हैं. ऐसी स्थिति में दुवालिएर की वापसी से राजनीतिक अनिश्चितता काफी बढ़ गई है, हालांकि उन्होंने अपनी राजनीतिक महत्वाकांक्षा के बारे में अभी तक कोई सूचना नहीं दी है.

1960 और 1970 के दशक में दुवालिएर परिवार के अधीन काम करने वाली गुप्त पुलिस संस्था टोंटोन माकुटे के सिपाहियों के हाथों लगभग 30 हजार नागरिक मारे गए थे या उनका अपहरण कर लिया गया था. देश छोड़ने के बाद भी उन्हें कभी अदालत का सामना नहीं करना पड़ा.

हैती की पत्रकार व संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून की पूर्व प्रवक्ता मिशेले मोंटास ने कहा है कि वे भी दुवालिएर के खिलाफ मुकदमा दायर करने जा रही हैं. मोंटास को निर्वासन में जाना पड़ा था और सन 2000 में उनके पति ज्यां डोमिनिक की हत्या कर दी गई थी.

रिपोर्ट: एजेंसियां/उ भट्टाचार्य

संपादन: एन रंजन

DW.COM

WWW-Links