1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

अजंता मेंडिस की काट हमने निकाल ली है: तेंदुलकर

श्रीलंका के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में सैकड़ा जड़ने वाले सचिन तेंदुलकर ने कहा कि अजंता मेंडिस की गेंदों को भारतीय टीम ने समझ लिया है. तेंदुलकर के मुताबिक मेंडिस के लिए भारतीय बल्लेबाजों को आउट करना अब आसान नहीं होगा.

default

सचिन का मेंडिस को जवाब

भारतीय टीम ने जब पिछली बार श्रीलंका का दौरा किया तो अजंता मेंडिस कहर बनकर भारतीय बल्लेबाजों पर टूटे और मेंडिस की फिरकी गेंदबाजी ने भारतीय बल्लेबाजों को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया. कोलंबो में खेले जा रहे दूसरे टेस्ट में भारतीय टीम के पहली पारी में चार विकेट गिरे हैं. उनमें से दो विकेट मेंडिस ने लिए हैं लेकिन मेंडिस 83 रन भी दे चुके हैं.

108 रन पर नाबाद सचिन तेंदुलकर ने कहा, "मेंडिस एक मुश्किल गेंदबाज हैं. लेकिन हमने उनकी काट निकाल ली है. हमने उनकी गेंदबाजी के मजबूत पक्ष को जान लिया है और हम उनके जाल में नहीं फंसेंगे. मेंडिस ने भारतीय बल्लेबाजों के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन किया है लेकिन अब मुकाबला बराबर का हो गया है."

Indien Cricket Sachin Tendulkar

मेंडिस ने मुरली विजय और वीवीएस लक्ष्मण को अपने जाल में फंसाया जबकि सूरज रंडीव ने सहवाग और राहुल द्रविड़ को पैवेलियन का रास्ता दिखाया. तेंदुलकर ने मेंडिस और रंडीव की प्रशंसा तो की लेकिन यह भी कह दिया कि मुथैया मुरलीधरन के संन्यास के बाद श्रीलंकाई स्पिन गेंदबाजी में जो खालीपन पैदा हुआ है उसे भरना आसान नहीं होगा.

"दोनों गेंदबाजों ने बढ़िया बॉलिंग की. निश्चित रूप से मुरलीधरन के नक्शेकदम पर चल पाना आसान नहीं है. रंडीव और मेंडिस के लिए यह बेहद मुश्किल होगा. मुरली के जाने के बाद खालीपन को भरना दोनों के बड़ी जिम्मेदारी की बात है."

श्रीलंका के खिलाफ दूसरे टेस्ट में तेंदुलकर ने अपना 48वां शतक जड़ा है और 108 रन बनाकर वह अब भी भारतीय पारी को संभाल रहे हैं. श्रीलंका के 642 रनों के जवाब में भारत ने चार विकेट के नुकसान पर 382 रन बनाए हैं. सहवाग ने शानदार 99 रन की पारी खेली लेकिन किस्मत ने उनका साथ नहीं दिया और वह शतक पूरा करने से एक रन से चूक गए. मुरली विजय ने 58 रन बनाए. तेंदुलकर के साथ क्रीज पर सुरेश रैना मौजूद हैं जो 66 रन बनाकर खेल रहे हैं.

श्रीलंका ने गॉल में खेले गए पहले टेस्ट मैच में भारत को हरा दिया था. भारत पिछले डेढ़ दशक से श्रीलंका में सीरिज जीतने के लिए तरस रहा है और महेंद्र सिंह धोनी के नेतृत्व में उसे जीत की उम्मीद थी. लेकिन गॉल टेस्ट में हार के चलते उसकी शुरुआत खराब हुई और कोलंबो में मामला बराबर का नजर आ रहा है. श्रीलंका तीन टेस्ट मैचों की इस सीरिज को अगर 3-0 या फिर 2-0 से जीतने में कामयाब होता है तो भारत नंबर वन टेस्ट टीम से नीचे लुढ़क सकती है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: वी कुमार