1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

अगले महीने चीन जाएंगे कपिल सिब्बल

भारतीय सेना के एक अफसर को वीजा न देने के मामले पर भले ही भारत और चीन का सैन्य आदान प्रदान फिलहाल बंद हो पर मानव संसाधन विकास मंत्री कपिल सिब्बल अगले महीने चीन जा रहे हैं. वह वहां विश्व आर्थिक मंच की बैठक में शामिल होंगे.

default

अगले महीने चीन दौरे पर

मंत्रालय के सूत्रों का कहना है कि सिब्बल विश्व आर्थिक मंच की बैठक में हिस्सा लेने के लिए 10 सितंबर से सात दिन के चीन दौरे पर जाएंगे. थियानचिन में होने वाली इस बैठक में सिब्बल भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे. 13 से 15 सितंबर तक होने वाली इस सालाना बैठक का विषय इस बार निरंतर वृद्धि रखा गया है.

कई देशों के मंत्री और उद्योगपति इस बैठक में शामिल होंगे और इस बात पर चर्चा करेंगे कि कैसे ज्यादा कार्बन उत्सर्जन किए बिना ऊर्जा कुशलता को बढ़ाते हुए और हरित तकनीक और बुनियादी ढांचे के विकास के जरिए लगातार वृद्धि को जारी रखा जाए. उम्मीद है कि बैठक के दौरान सिब्बल कुछ चीनी नेताओं से भी मिलेंगे. दोनों पक्षों के बीच शिक्षा और संस्कृति के क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने पर बात हो सकती है.

सिब्बल का चीन दौरा इसलिए भी अहम है क्योंकि इन दिनों वीजा विवाद के कारण दोनों देशों के सैन्य आदान प्रदान पर रोक लगी हुई है. चीन ने भारतीय सेना के लेफ्टिनेंट जनरल बीएस जायसवाल को सिर्फ इसलिए वीजा देने से इनकार कर दिया क्योंकि उनका संबंध 'संवेदनशील' जम्मू कश्मीर राज्य से है. जनरल जायसवाल एक सैन्य आदान प्रदान कार्यक्रम के सिलसिले में चीन जाने वाले थे.

भारत ने चीन के इस कदम का तीखा विरोध किया और जवाबी कार्रवाई के तौर पर एक वरिष्ठ चीनी कर्नल और दो कप्तानों को वीजा देने से इनकार कर दिया. भारत ने कहा कि चीन का कदम जम्मू कश्मीर के दर्जे पर सवाल उठाने के बराबर है जो भारत का अभिन्न अंग है. भारत ने चीन के कदम को 'अस्वीकार्य' बताया.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः ओ सिंह

DW.COM

WWW-Links