1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

अकमल पर फब्ती कसने से ट्रॉट का इंकार

इंग्लैंड के बल्लेबाज जोनाथन ट्रॉट ने पाकिस्तान के साथ पहले वनडे मैच में विकेट कीपर कामरान अकमल पर फब्ती कसने से इनकार किया है. ट्रॉट पर आरोप है कि मैच फिक्सिंग के आरोपों के सिलसिले में उन्होंने अकमल पर फब्ती कसी.

default

कामरान अकमल

ट्रॉट की टिप्पणी से गुस्साए अकमल ने भी जवाब दिया जिसके बाद अंपायरों को बीचबचाव करना पड़ा. हालांकि किसी भी खिलाड़ी के खिलाफ अभी कोई कार्रवाई नहीं की गई है. डरहम में खेला गया पहला मैच इंग्लैंड ने 24 रन से जीता. पाकिस्तानी विकेट कीपर कामरान अकमल भी स्पॉट फिक्सिंग के घेरे में हैं और उनके खिलाफ जांच होने की रिपोर्टें हैं.

लेकिन जोनाथन ट्रॉट ने कहा है कि अकमल के साथ हुई बहस को बढ़ा चढ़ाकर पेश किया जा रहा है और राई का पहाड़ बनाया जा रहा है. ट्रॉट का दावा है कि अकमल के साथ हुई बहसबाजी का फिक्सिंग के आरोपों से कुछ लेना देना नहीं है. आईसीसी की एंटि करप्शन यूनिट ने एहतियाती कदम उठाते हुए पाकिस्तान के तीन खिलाड़ियों को टीम से निलंबित कर दिया है.

ट्रॉट ने बताया, "ऐसा कुछ भी नहीं है. मैदान के बाहर जो कुछ भी हो रहा है उससे हमारा कुछ लेना देना नहीं है. हम इसके बारे में मैदान पर बात नहीं करते. हमारे बीच कोई मनमुटाव नहीं है और हम सिर्फ क्रिकेट खेलते हैं. यह बेहद अहम है कि एक अच्छी छवि पेश करते हुए खेल को सिर्फ नियमों के दायरे में खेला जाए. मैंने कामरान को कुछ नहीं कहा है और मुझे नहीं लगता कि माफी मांगने की जरूरत है. ऐसी कोई बड़ी बात मैंने नहीं कही."

इंग्लैंड के कप्तान एंड्रयू स्ट्रॉस ने भी मामले को रफा दफा करने की कोशिश की है और ट्रॉट का यह कहते हुए बचाव किया है कि वह अपनी हद में ही रहे हैं. उन्होंने कहा, "ऐसी कोई बड़ी बातें नहीं की जा रही थीं और अंपायरों ने बहस में आकर बीचबचाव कर लिया. वैसे खिलाड़ियों ने भी बाद में इस बात को भुला दिया. मैं इस घटना के बारे में ज्यादा चिंतित नहीं हूं."

उधर पाकिस्तान की टेस्ट टीम के कप्तान सलमान बट और गेंदबाज मोहम्मद आमेर और मोहम्मद आसिफ देश लौट आए हैं. ब्रिटेन के अखबार न्यूज ऑफ द वर्ल्ड ने एक स्टिंग ऑपरेशन के जरिए उन पर स्पॉट फिक्सिंग में शामिल होने का आरोप लगाया जिसके बाद वे मुश्किल में घिर गए और आईसीसी ने उन्हें निलंबित कर दिया.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: वी कुमार

DW.COM

WWW-Links