1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

अंबेडकर पर शुरू हुई राजनीति

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने नरेंद्र मोदी सरकार पर परोक्ष कटाक्ष करते हुए कहा कि देश में ढांचागत सुविधाओं के विकास के लिए रेल लाइन बिछाना और सड़कें जरूरी हैं लेकिन इससे कहीं ज्यादा जरूरी सभी लोगों को समान अधिकार देना है.

राहुल गांधी ने इंदौर के पास भीमराव अंबेडकर के जन्मस्थान मऊ में एक जनसभा को संबोधित करते हुए यह बात कही. कांग्रेस उपाध्यक्ष संविधान निर्माता अंबेडकर के 125 वीं जयंती वर्ष समारोह की शुरूआत करने आए थे. इसके लिए कांग्रेस ने काफी तैयारियां कीं. निर्धारित समय से लगभग दो घंटे विलंब से शुरू हुए कार्यक्रम में राहुल गांधी ने किसी का नाम लिए बगैर आरोप लगाया कि मौजूदा दौर में जातिवाद हावी है. उन्होंने कहा कि सभी को बगैर किसी भेदभाव के उसके सभी अधिकार मिलने चाहिए.
अपने भाषण में राहुल गांधी ने कहा कि सभी वर्गों के लोगों को रोजगार मिलना चाहिए, “ऊंचे पदों पर भी दलित वर्ग के लोगों को जाने का अधिकार मिलना चाहिए. सरकारी और गैरसरकारी संस्थानों में भी इस वर्ग के लोगों को रोजगार मिलना चाहिए. इसके अलावा लोगों को चाहिए कि वे इंसानों के बीच किसी प्रकार का भेदभाव नहीं करें.“

याद आए अंबेडकर

जय भीम के नारे के साथ अपने भाषण की शुरूआत और समापन करने वाले राहुल गांधी ने अंबेडकर के कार्यों और उनके संघर्ष का जिक्र करते हुए कहा कि इससे यह भी साबित होता है कि बदलाव लाना इतना आसान नहीं है. उन्होंने कहा, “हम अंबेडकर के मिशन को पूरा करने का संकल्प लेते हैं और इस काम में आप सब से मदद का आह्वान करते हैं.“

कांग्रेस नेता ने कहा कि सभी का सहयोग मिलने पर एक दिन पूरा देश अंबेडकर के मिशन को पूरा करने के लिए संकल्पित होगा. उन्होंने अंबेडकर की ओर से दलितों के उत्थान और देश के विकास के लिए किए गए कामों का जिक्र किया और कहा कि युवाओं को भी जातिवाद के खिलाफ चुप नहीं रहना चाहिए. उन्होंने जातिवाद को पूरी तरह से समाप्त करने की जरूरत बताते हुए कहा, “हम आज डॉ. साहेब की 125वीं राष्ट्रीय जयंती वर्ष समारोह शुरू करने आए हैं. उन्होंने अपने जीवन में काफी संघर्ष किया और शिक्षित रहो, संघर्ष करो और संगठित रहो का नारा दिया था. उन्होंने ही हमें वन मैन वन वोट की बात बताकर अधिकारों के प्रति सजग किया था. अब हमें डॉ साहेब के मिशन को पूरा करना है.“

इस मौके पर पार्टी महासचिव एवं प्रदेश प्रभारी मोहन प्रकाश वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह, पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम, ज्योतिरादित्य सिंधिया, कुमारी सेलजा, राज बब्बर, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरूण यादव और अन्य नेता मौजूद थे. स्थानीय मिलिट्री मैदान पर आयोजित सभा में हजारों लोग राहुल गांधी को सुनने पहुंचे. इसके पहले राहुल गांधी ने अंबेडकर स्मारक पर श्रद्धासुमन अर्पित किए.

आईबी/एमजे (वार्ता)

DW.COM

संबंधित सामग्री