1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

अंबानी भाइयों में 12,000 करोड़ का सौदा

अंबानी भाइयों ने एक दूसरे के साथ 12,000 करोड़ रुपये के सौदे की घोषणा की है. इस सौदे के अनुसार मुकेश अंबानी की दूरसंचार कंपनी रिलायंस जियोकॉम अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस कम्यूनिकेशंस के टेलीकॉम टावरों का इस्तेमाल करेगी.

इस महीने दोनो भाइयों के बीच यह दूसरा सौदा है. इसकी मदद से रिलायंस को 4जी टेलीकॉम सेवा को बाजार में लाने में रफ्तार मिलेगी. इस सौदे से अनिल अंबानी की रिलायंस कम्यूनिकेशंस को सालाना 800 करोड़ रुपये का फायदा पहुंचने की उम्मीद की जा रही है.

कंपनी के बयान में बताया गया है कि रिलायंस जियोकॉम सौदे के तहत आरकॉम के 45,000 टावरों के नेटवर्क का इस्तेमाल अपने 4जी कार्यक्रम को लाने की प्रक्रिया बढ़ाने में करेगा. मुकेश अंबानी की रिलायंस जियो इन्फोकॉम इकलौती कंपनी है, जिसने 2010 में देश भर में 4जी सेवा के लिए स्पेक्ट्रम हासिल किया था.

अप्रैल में अंबानी भाइयों ने पहला वाणिज्यिक सौदा किया था, जिसमें मुकेश ने अपने दूरसंचार उद्यम के लिए अनिल के ऑप्टिक फाइबर नेटवर्क के इस्तेमाल पर सहमति जताई थी. नए सौदे ने दोनों भाइयों ने मिलकर कुछ और नए टावर खड़े करने की संभावना भी पैदा की है. 2002 में उनके पिता और रिलायंस समूह के मालिक धीरूभाई अंबानी की मृत्यु के बाद दोनो भाइयों के बीच मालिकाना बंटवारा हुआ. अब दोबारा दोनो के बीच कुछ और सौदों की संभावनाएं बनती दिखाई दे रही हैं.

एसएफ/एएम (एएफपी/पीटीआई)

DW.COM

WWW-Links

संबंधित सामग्री