1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

अंतरराष्ट्रीय दौरों की जुगाड़ में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड

सुरक्षा कारणों से पाकिस्तानी जमीन पर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच के आयोजन पर पाबंदी के दौर में पीसीबी टीम के लिए ज्यादा से ज्यादा अंतरराष्ट्रीय दौरे कराने की तैयारी में लगी है. पीसीबी अधिकारी ने शनिवार को ये जानकारी दी.

default

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के सीओओ सुभान अहमद ने पत्रकारों को बताया,"हम श्रीलंका और इंग्लैंड के क्रिकेट बोर्ड से भविष्य के दौरों के लिए मुकबाले की जगह और दूसरी चीजों पर बातचीत कर रहे हैं. संयुक्त अरब अमीरात इन मुकाबलों के लिए एक संभावित जगह है." पिछले साल मार्च में श्रीलंकाई क्रिकेट टीम को ले जा रही बस पर लाहौर में आतंकी हमला होने के बाद से ही पाकिस्तान में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच के आयोजन पर रोक लगा दी गई है. इस हमले में आठ लोग मारे गए थे और सहायक कोच समेत सात श्रीलंकाई खिलाड़ी घायल हो गए थे.

इन हमलों की वजह से ही आईसीसी ने वर्ल्डकप के दौरान पाकिस्तान में होने वाले मैच भी रद्द कर दिए. फरवरी से अप्रैल के बीच होने वाले ये मैच अब भारत श्रीलंका और बांग्लादेश में खेले जाएंगे. हमला होने से पहले ही अंतरराष्ट्रीय टीमें पाकिस्तान जाने से कतरा रही थी. पाकिस्तान में क्रिकेट के लिए खासी दीवानगी है पर देश में और पड़ोसी अफगानिस्तान में चल रही आतंकवादियों से जंग इस जज्बे पर भारी पड़ रही है. नतीजा ये हुआ है कि पाकिस्तान को अपने घरेलू मैच यूएई, न्यूजीलैंड और इंगलैंड में खेलने पड़े हैं. सुभान अहमद ने बताया कि इंग्लैंड की टीम ने 2012 में पाकिस्तान के साथ खेलने के लिए करार कर चुकी है. अहमद ने कहा,"ये दौरा जनवरी 2012 में होगा, इसमें तीन टेस्ट, पांच वनडे और एक टी20 मैच खेलें जाएंगे हमने अभी तक खेल की जगह तय नहीं की है लेकिन संयुक्त अरब अमीरात में मैच होने की संभावना है." यूएई के क्रिकेट अधिकारियों ने श्रीलंका और इंग्लैंड के साथ मैच कराने के लिए प्रस्ताव दिया है."

अहमद को उम्मीद है कि पाकिस्तान में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को वापस लाने की पीसीबी की कोशिशें कामयाब होंगी हालांकि वो ये भी मानते है कि अंतरराष्ट्रीय टीमों का भरोसा हासिल करने में वक्त लगेगा. अहमद ने कहा,"सुरक्षा के बारे में धारणा बदलने के लिए हमें छोटे दौरों से शुरुआत करनी होगी, दूसरे बोर्ड जब पूरी तरह आश्वस्त हो जाएंगे तभी बड़े दौरे शुरू हो सकेंगे. लेकिन इस पूरी प्रक्रिया में वक्त लगेगा और ये पाकिस्तान के सुरक्षा हालात पर निर्भर करेगा."

वर्ल्ड कप से पहले पाकिस्तानी क्रिकेट टीम फिलहाल न्यूजीलैंड के दौरे पर है जहां उन्हें तीन टी 20, दो टेस्ट औऱ छह वनडे मैच खेलने हैं. अगले साल अप्रैल और अगस्त में वो वेस्ट इंडीज और जिम्बाब्वे के दौरे पर भी जाएंगे. अहमद के मुताबिक पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड भारत के साथ भी मैच आयोजित करने के लिए बेकरार है. अहमद ने कहा कि दोनों टीमों के व्यस्त होने के कारण सीरीज आयोजित करना मुमकिन नहीं लगता हां कोई छोटा मोटा दौरा जरूर हो सकता है.

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः आभा एम

DW.COM

WWW-Links